dedicated hosting vps hosting shared hosting cloud hosting (1)hosting in hindi ,types of hosting hosting kya hai in hindi

Hosting kya hai meaning of hosting in hindi 2021

Share this article

अगर आप एक Blogger है। या अपनी website बनाने के बारे में सोच रहे है। तो आपको होस्टिंग के बारे में ज़रूर जानना चाहिए। Hosting kya hai और  What is web hosting? Best hosting कौन है। आपको यहाँ Hosting के बारे में full Information हिंदी में बताया जायेगा। 

सबसे पहले आइए जानते है होस्टिंग क्या है। क्या आपने कभी ये सोचा है? जिस किसी भी website पर हम ऑडियो video, image आदि देखते है। वो internet पर कहा स्टोर होते है। वे सभी डाटा storage के सर्वर में स्टोर होते है। जिसे हम hosting कहते है।  

 होस्टिंग एक प्रकार का storage होता है। जिसमे हम अपने website के image, Video, और text आदि को स्टोर कर सकते है। ये सभी डेटा ऑनलाइन होता है इसे user कभी भी acess कर सकता है। 

Important page for Adsense approval क्यों जरुरी है।

Meaning of hosting in hindi

क्या आपको पता है। होस्टिंग  हिंदी में क्या कहते है। वैसे तो होस्टिंग का हिंदी में अलग-अलग  ही मतलब है जैसे hosting को  हिंदी में मेजबानी भी कहते है।   लेकिन यहाँ पर होस्टिंग का आशय किसी चीज़ को स्टोर करना या उसे संभाल कर रखना। या एक प्रकार Boodle,corps आदि से है। जिसका मतलब स्टोरेज से संबंधित है। 

What is web hosting ( वेब होस्टिंग किसे कहते है।)

अभी आपने जाना होस्टिंग क्या होता है। अब आप जानेंगे web hosting क्या होता है। अब आपके मन से सवाल आ रहा होगा कि hosting और web hosting में क्या अंतर है। तो दोस्तों अभी आपने जाना होस्टिंग एक स्टोरेज का काम करता है। जिसमे आप किसी चीज़ को स्टोर कर सकते है। यह offline और ऑनलाइन दोनों माध्यम में हो सकता है। 

जैसे आप offline storage  में में अपने जरुरत के चीज़ो को स्टोर कर सकते है। वैसे ही online माध्यम में आप अपने website या blog के content  को स्टोर कर सकते है। 

आप Internet पर कोई Blog या website देखते है। उसमे जो audio, video और Article होते है। वह ऐसे ही हवा में नहीं उड़ता रहता उसके लिए भी स्टोरेज की आवश्यकता पड़ती है।

सरल शब्दों में समझे तो hosting का एक storage सर्वर होता है। जिसमे हमारे वेबसाइट के सभी content होस्टिंग के माध्यम एक सर्वर में स्टोर हो जाते है। और user उसे कभी भी देख या पढ़ सकता है। 

सभी hosting कंपनियों के अपना अपना storage server या hosting सर्वर होता है। जो हमेशा online रहता है। इसके लिए आपको  hosting का Plan खरीदना पड़ता है। और इसे domain name से जोड़ने के बाद acces कर सकते है। 

आप hosting plan को सालाना या उसे अधिक पैकेज़ के तौर पर ले सकते है। इसमें नए नए Technology कर करके website के डाटा को स्टोर किया जाता है। 

Type of hosting in hindi ( होस्टिंग कितने प्रकार का होता है )

अब तो आप जान गए होंगे कि hosting kya hai इसका क्या प्रयोग है। Hosting कई प्रकार के होते है। आप  अपने जरुरत के हिसाब से कोई भी hosting प्लान ले सकते है। hosting खरीदने से पहले आप अपने website या blog के कार्य क्षमता के अनुसार ले सकते है। जैसे आप की website के लिए कितने स्टोरेज की जरुरत पड़ सकती है। आपके वेबसाइट पर per day या monthly कितने लोग visit करते है। 

सीधे तौर पर कहा जाये तो आप के वेबसाइट पर अगर visitor  ज्यादा  आते है। और आप कम स्टोरेज वाली web hosting का use कर रहे है तो आप की website या blog की performance slow हो सकती है। या आपकी साइट क्रेस हो सकती है। इसलिए आप होस्टिंग लेते समय इन बाते का ध्यान रखना चाहिए। निचे type of hosting के बारे में बताया गया है। उसे आप अपने buy कर सकते है। 

Hosting 4 प्रकार के होते है। जिन्हे उसने स्टोरेज क्षमता और performance के आधार पर बाटा गया है। 

  1. Shared hosting 
  2. VPS hosting
  3. Dedicated hosting
  4. Cloud hosting

आइए इनके कार्य क्षमता और Performance के आधार पर समझते है। बेस्ट होस्टिंग कौन सा है। 

Shared hosting की क्षमता और performance 

Hosting की बात करे तो shared hosting की क्षमता और Performance बेसिक कैटेगरी की होती है। क्योंकि इसमें बहुत सी website एक ही सर्वर से connected होते है। और इनका डाटा एक ही सर्वर पर स्टोर किया जाता है। इसलिए इसकी speed बाकि होस्टिंग के कम होती है ।  

अगर आप shared hosting का इस्तेमाल का रहे है तो आपकी site पर ज्यादा traffic आने लगे तो आपको कुछ समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। आपकी website slow हो सकती है। 

यह hosting New blogger के लिए अच्छा है। क्योंकि शुरुआत में उतना ज्यादा ट्रैफिक नहीं आते है। और Shared hosting उतने traffic को आराम से संभाल सकता है। और shared hosting सस्ता भी पड़ता है। 

Shared Hosting के फायदे और नुकसान

फायदे 

  • अगर आप अभी एक नए blogger है। तो इसे ले सकते है क्योंकि यह सस्ता होता है। 
  • यह hosting साधारण वेबसाइट को आराम से संभाल सकता है। 
  • इसमें आप अपने website को आराम से manage कर सकते है। इसका Interface बहुत सरल होता है । 

नुकसान 

  • इसमें आपको काम feature मिलते है। 
  • यह एक shared hosting है इसलिए इसकी कार्य क्षमता कम होती है। 
  • इसमें कम्पनियाँ maintenance के लिए support नहीं देती है। और इसकी security थोड़ी कमजोर रहती है। 

 VPS hosting की क्षमता और Performance  

VPS hosting, shared hosting के मुक़ाबले बढ़िया होता है। यह एक तरह यह server का बड़ा सा होस्ट होता है। जिसे अलग-अलग website के लिए अलग बाटा गया होता है। मतलब जिसे वेबसाइट या Blog के लिए server में जो space मिलता है। उसी के अंदर ही स्टोर होता है। किसी दूसरे website का  डाटा आपके space में store नहीं होता है। इसमें हर website के लिए अलग अलग Virtual server प्रयोग किया जाता है। 

इसलिए यह shared hosting से fast होता है। अगर आपको इससे अभी space hosting वाले server कई जरुरत पड़ती है तो आप इसे upgrade भी कर सकते है। 

VPS hosting फायदे और नुकसान 

फायदे:- 

  •  इसमें आपको बढ़िया performance देखने को मिलता है। 
  • इस होस्टिंग में आपको full control के साथ अपने website को manage कर सकते है। 
  • इसकी page load अच्छी होती है।  
  • इसमें security system अच्छा मिलता है। 
  • इसमें आप अपने जरुरत के अनुसार storage को बढ़ा सकते है। 

नुकसान:-

  • वैसे तो इसमें नुकसान वाली कोई बात नहीं है। 
  • लेकिन इसका Interface थोड़ा टेक्निकल होता है । शुरुआत में आपको मैनेज करने में समस्याएँ  आ सकते है। 
  • यह dedicated hosting के कमजोर होता है। 

Dedicated hosting की क्षमता और Performance  

Dedicated hosting में आपके सर्वर में कोई भी दूसरे website का डाटा स्टोर नहीं होता है। इस सर्वर पर सिर्फ आपके का डाटा स्टोर होता है। यह hosting बाकि hosting के मुकाबले काफी महंगा होता है। इसमें किसी प्रकार की traffic समस्याएं नहीं होती है। चाहे जितना भी traffic आये यह manage कर लेता है। यह काफी फ़ास्ट होती इसका प्रयोग ज्यादातर E-commerce जैसे वेबसाइट के लिए किया जाता है।

इस होस्टिंग में आपका पूरा control होता है। इसमें आप कोई भी setting बदल सकते है। अगर आप e-commerce जैसी  website  बनाना चाहते है। तो आप इस hosting का प्रयोग कर सकते है। 

Dedicated hosting के फायदे और नुकसान 

फायदे:-

  • अगर आप इस hosting का प्रयोग करते है तो इसपर आपका पूरा control रहता है।
  • इस hosting में सबसे ज्यादा security मिलती है।
  • इसमें चाहे जितना भी traffic आये कोई दिक्कत नहीं होती है।
  • इसमें और भी feature मिलता है।

नुकसान:-

  • इस hosting में कोई हानि है लेकिन अगर आपका बजट कम है तो आप को दिक्कत हो सकती है। क्योकि यह सबसे महंगा होता है।
  • इसको manage करने के लिए आपको technical ज्ञान होना जरुरी है।

Cloud hosting की क्षमता और Performance

Cloud hosting Blogging के field में काफी पॉपुलर है। 90% से ज्यादा ब्लॉगर cloud hosting का उसे करते है। यह काफी समय से पॉपुलर है। यहाँ पर स्टोरेज की कोई limitasion नहीं है। यहाँ पर कई सारे server एक साथ मिलकर आपकी वेबसाइट को मैनेज करता है।

इसमें High traffic भी आ जाये तो भी फर्क नहीं पड़ता है। लेकिन Dedicated hosting की तरह आप इसपर पूरा control नहीं कर सकते है। लेकिन जितना भी कर सकते है उतना हमारे website के लिए काफी होता है।

इसका प्रयोग ज्यादातर blogging site के लिए क्या जाता है।

Cloud hosting के फायदे और नुकसान

फायदे:- 

  • यदि आप blogging करना चाहते है तो  इस होस्टिंग का प्रयोग कर सकते है। 
  • इसमें आपको traffic के झंझट से छुटकारा मिल जाता है।

नुकसान:-

  • इसमें कोई नुकसान नहीं है। अगर आप का बजट अच्छा है। तो आप इसे use कर सकते है। क्योकि यह थोड़ा costly होता होता।

Best hosting kaise select kare ( आपके लिए सबसे बेस्ट होस्टिंग कौन है।)

जैसा की आपने जाना hosting kya hai ( what is web hosting) होस्टिंग कितने प्रकार कर होता है। 

अगर आप भी hosting buy की सोच रहे है और आपको समझ नहीं आ रहा है। Best hosting kaise select kare तो यह आर्टिकल आप के लिए ही होने वाला है। आप आपने जरूरत के अनुसार कोई भी होस्टिंग ले सकते है। 

    • Shared hosting– अगर आप अभी Blogging start करने की सोच रहे है और आपका बजट भी काम है। तो आप shared hosting ले सकते है। क्योंकि शुरुआत में ब्लॉग पर काम traffic आते है। जिसे shared hosting आराम से Handle कर सकता है। 
    • VPS hosting– अगर आप ने ब्लॉग बना लिया है तो और आपके blog पर trafic increase हो रहे है तो आप VPS hosting ले सकते है। यह shared hosting से थोड़ा महंगा होता है। 
  • Dedicated hosting- यह होस्टिंग खास e-commerce वेबसाइट के लिए बनाया गया है। यही आप e-commerce वेबसाइट के बारे में सोच रहे है तो यह Best hosting हो सकता है। 
  • Cloud hosting- यह होस्टिंग खास ब्लॉगर के लिए सबसे बेस्ट होस्टिंग में से एक है। अगर आप अपना ब्लॉग start करने वाले है। और आपका बजट भी अच्छा तो मैं Recommanded करूँगा आप Cloud hosting ही ले । 

Consultation: 

मैं आशा करता हूँ कि hosting kya hai और Type of hosting in hindi के बारे में जानकारी आपको जरूर पसंद आयी होगी। यहाँ पर hosting से related सभी टॉपिक्स को कवर किया गया है। अगर आप blogging कर रहे है। या अभी Blogging start करने वाले है।  तो आप बने रहिये हमारे साथ। यहाँ पर Blogging से related सभी प्रकार की useful और Interesting जानकारियाँ शेयर किया जाता है।  

अगर यह जानकारी आपको पसंद आयी होगी तो share करना न भूले। 

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *